शेयर बाजार और अर्थव्यवस्था को लेकर भारत के लिए अच्छी खबर।

शेयर बाजार और अर्थव्यवस्था को लेकर भारत के लिए अच्छी खबर।

Good news for India regarding stock market and economy.

ब्लूमबर्ग इंडेक्स सर्विसेज (बीआईएसएल) ने 5 मार्च को घोषणा की कि वह 31 जनवरी, 2025 से ब्लूमबर्ग इमर्जिंग मार्केट्स (ईएम) स्थानीय मुद्रा सूचकांक में भारत फुली एक्सेसिबल रूट (एफएआर) बांड जोड़ेगी।

  • Business
  • 221
  • 05, Mar, 2024
Jyoti Ahlawat
Jyoti Ahlawat
  • @JyotiAhlawat

Good news for India regarding stock market and economy.

ब्लूमबर्ग इंडेक्स सर्विसेज (BISL) ने 5 मार्च को घोषणा की कि वह 31 जनवरी 2025 से ब्लूमबर्ग इमर्जिंग मार्केट (EM) लोकल करेंसी इंडेक्स में भारत फुली एक्सेसिबल रूट (FAR) बॉन्ड जोड़ेगी। ब्लूमबर्ग फिक्स्ड इनकम इंडेक्स दस्तावेज़ में दिखाया गया है कि इन बांडों का समावेश 31 जनवरी 2025 की री-बैलेंस डेट से शुरू होकर 10 महीने की अवधि में चरणबद्ध तरीके से किया जाएगा। 8 जनवरी को, बी.आई.एस.एल ने ब्लूमबर्ग इमर्जिंग मार्केट (EM) लोकल करेंसी इंडेक्स में भारत एफएआर बांड के प्रस्तावित समावेश को लेकर परामर्श को लेकर एक विंडो खोली थी। दस्तावेज़ में कहा गया है कि परामर्श के दौरान प्राप्त फीडबैक के आधार पर, बीआईएसएल ने ब्लूमबर्ग ईएम लोकल करेंसी गवर्नमेंट इंडेक्स और सभी संबंधित सूचकांकों में भारत एफएआर बांड को शामिल करने का निर्णय लिया है।

हर महीने 10 प्रतिशत वेटेज बढ़ाई जाएगी भारत FAR बांड का वेटेज अक्टूबर 2025 में समाप्त होने वाली 10 महीने की अवधि में हर महीने उनके पूर्ण बाजार मूल्य के 10 प्रतिशत की वृद्धि के साथ बढ़ाया जाएगा। इस बिंदु पर उन्हें उनके पूरे बाजार मूल्य (100 प्रतिशत) पर वेटेड किया जाएगा। बीआईएसएल के फिक्स्ड इनकम इंडेक्स प्रोडक्ट के वैश्विक प्रमुख निक गेंड्रोन ने कहा, “ब्लूमबर्ग इंडेक्स वैश्विक निवेश समुदाय की सेवा करने के लिए प्रतिबद्ध है और इससे भारतीय बाजारों तक पहुंच और भागीदारी बढ़ेगी।” दस्तावेज़ में कहा गया है कि 31 जनवरी 2024 तक, 34 भारतीय एफएआर बांड (MV: $448 बिलियन) थे, जो EM लोकल करेंसी गवर्नमेंट इंडेक्स और अन्य इंडेक्सों के लिए पात्र होंगे।

लोकल करेंसी भारत बांड में INR-मूल्यवर्ग वाले भारत सरकार के बांड शामिल होंगे, जो फुली एक्सेसिबल रूट (एफएआर) के माध्यम से रखे गए हैं। इनकी न्यूनतम राशि 10 अरब रुपये होनी चाहिए और उभरते बाजार लोकल करेंसी इंडेक्स के सामान्य नियमों का पालन करते हुए होने चाहिए। बीआईएसएल ने कहा कि बांड की न्यूनतम परिपक्वता एक वर्ष होनी आवश्यक है।

शेयर बाजार और अर्थव्यवस्था को लेकर भारत के लिए अच्छी खबर। 

Jyoti Ahlawat

Jyoti Ahlawat

  • @JyotiAhlawat