डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन में आया 18% का उछाल, सरकारी खजाने में आए ₹19.58 लाख करोड़।

डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन में आया 18% का उछाल, सरकारी खजाने में आए ₹19.58 लाख करोड़।

There was a jump of 18% in direct tax collection, ₹ 19.58 lakh crore came to the government treasury.

Net direct tax collection for FY24 surged by 17.7% to ₹19.58 lakh crore, with a growth of 24.26% in personal income tax.

  • Business
  • 173
  • 21, Apr, 2024
Jyoti Ahlawat
Jyoti Ahlawat
  • @JyotiAhlawat

There was a jump of 18% in direct tax collection, ₹ 19.58 lakh crore came to the government treasury.

FY24 में नेट डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन का अंकल (प्रोविजनल) वार्षिक आधार 17.7% बढ़कर 19.58 लाख करोड़ रुपए हो गया। पिछले वित्त वर्ष FY23 में यह 16.63 लाख करोड़ रुपए था। इसका मतलब है कि नेट डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन में 2.95 लाख करोड़ रुपए की वृद्धि हुई है। इसी दौरान, FY24 के लिए ग्रॉस डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन (प्रोविजनल) में 18.48% की वृद्धि हुई और 23.37 लाख करोड़ रुपए हो गया। 3.79 लाख करोड़ रुपए का रिफंड भी जारी किया गया है, जो कि पिछले वर्ष के रिफंड की तुलना में 22.74% अधिक है। इन रिफंड के बाद, नेट डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन होता है।

व्यक्तिगत आय कर में वृद्धि दर 24.26% रही, जिससे ग्रॉस पर्सनल इनकम टैक्स वार्षिक आधार पर 24.26% बढ़कर 12.01 लाख करोड़ रुपए (प्रोविजनल) पर पहुंच गया। नेट पर्सनल इनकम टैक्स की वृद्धि दर 25.23% थी, और इसकी राशि 10.44 लाख करोड़ रुपए (प्रोविजनल) थी।

डायरेक्ट और इंडायरेक्ट टैक्स के बीच अंतर होता है। डायरेक्ट टैक्स को सीधे आम लोगों से वसूला जाता है, जिसमें कॉर्पोरेट और व्यक्तिगत आय कर शामिल है। शेयर और अन्य संपत्तियों पर लगाया गया कर भी इसी श्रेणी में आता है। जिस कर को सीधे लोगों से नहीं वसूला जाता, लेकिन उसकी वसूली दूसरे माध्यमों के माध्यम से की जाती है, उसे इंडायरेक्ट टैक्स कहा जाता है। इसमें एक्साइज ड्यूटी, कस्टम ड्यूटी, और जीएसटी शामिल हैं।

News Reference

Follow the Hindeez on Google News Hindeez.com
Follow the Hindeez channel on WhatsApp Hindeez.com
Jyoti Ahlawat

Jyoti Ahlawat

  • @JyotiAhlawat